33 C
Mumbai
Monday, April 19, 2021
Home NEWS दिल्ली के अस्पतालों में कम वैक्सीनेशन पर बोले सत्येंद्र जैन- लड़ाई कोरोना...

दिल्ली के अस्पतालों में कम वैक्सीनेशन पर बोले सत्येंद्र जैन- लड़ाई कोरोना से है, राज्य और केंद्र की नहीं

दिल्ली समेत देशभर में कोरोना तेजी से फैल रहा है और इस बीच वैक्सीनेशन को लेकर कुछ राज्य सरकारों और केंद्र सरकार के बीच तनातनी भी चल रही है. कुछ राज्यों ने वैक्सीन की कमी की बात कही तो वहीं केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से महाराष्ट्र, दिल्ली और पंजाब को राष्ट्रीय औसत से भी कम वैक्सीनेशन को लेकर चिठ्ठी लिखी गई. केंद्र सरकार द्वारा भेजी गई इस चिठ्ठी के जवाब में दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा कि दिल्ली में केंद्र सरकार के अस्पतालों में वैक्सीनेशन कम हुआ है जिसकी वजह से दिल्ली का औसत कम हुआ. हालांकि उन्होंने ये भी कहा कि इस लड़ाई को हमें मिलकर लड़ना चाहिए. लड़ाई कोरोना से है राज्यों से और केंद्र सरकार की नहीं है.

वैक्सीन को लेकर हो रही राजनीति पर सत्येंद्र जैन ने कहा कि वैक्सीन पर हमने केंद्र सरकार से दो-तीन अपील की हैं. पहले तो उन्होंने हमेशा उस पर थोड़ी ज्यादा प्रतिक्रिया दी है और बाद में मान भी लिया है. मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने पत्र लिखा कि वैक्सीनेशन में सबको छूट दी जाए या कम से कम 45 साल से ज्यादा वालों को छूट मिले. पहले उन्होंने मना किया फिर 3 दिन बाद मान लिया. हमने 2 अपील और की हैं कि वैक्सीनेशन के लिए सभी को अनुमति दी जाए, कम से कम वयस्कों को अनुमति दे दी जाए. और दूसरा की सिर्फ हेल्थकेयर फैसिलिटी में नहीं कैम्प सेटिंग में भी वैक्सीनेशन की अनुमति दी जाए.

“लड़ाई कोरोना से है राज्यों से और केंद्र सरकार की नहीं”

केंद्र द्वारा राज्य सरकारों पर राजनीति करने का आरोप लगाते हुए उन्होंने कहा कि हमें मिलकर लड़ना चाहिए. लड़ाई कोरोना से है राज्यों से और केंद्र सरकार की नहीं है. इसे ऐसे देखें कि राज्य और केंद्र सरकार अलग-अलग हैं. अगर कोई सुझाव देता है तो उसको सकारात्मक तरीके से लेना चाहिए. केंद्र को नहीं मानना तो न मानें, हमने सुझाव दिया केंद्र को. कुछ सुझाव वो 2-4 दिन बाद मान भी रहे हैं. मुझे लगता है इस पर राजनीति बिल्कुल नहीं करनी चाहिए.

केंद्र की चिट्ठी पर दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री

दिल्ली में राष्ट्रीय औसत से कम वैक्सीनेशन को लेकर केंद्र की चिट्ठी पर स्वास्थ्य मंत्री का कहना है कि इन चीजों में हमें मिलकर लड़ना चाहिए. केंद्र सरकार आरोप लगा रही है कि दिल्ली में वैक्सीनेशन कम हो रहा है ऐसे तो हम भी कह सकते हैं कि केंद्र सरकार के जो हॉस्पिटल हैं उसकी वजह से वैक्सीनेशन कम हुआ है. वहां तो 30-40% वैक्सीनेशन हुआ है उसकी वजह से सारा प्रतिशत कम हुआ है. ऐसा नहीं इस बात को छोड़ देना चाहिए. जितने लोगों ने भी कराया है हमने किसी को मना नहीं किया. दिल्ली में अगर 75% भी हुआ है और केंद्र के अस्पतालों में 30% हुआ है तो ये मुद्दा नहीं है. मुद्दा ये है कि जल्द से जल्द हमें ज्यादा से ज्यादा लोगों को वैक्सीनेट करना है. हमें इस झगड़े में पड़ने की जरूरत नहीं है.

“वैक्सीनेशन का 4-5 दिन का स्टॉक बचा”

दिल्ली में वैक्सीन की कमी के सवाल पर सत्येंद्र जैन ने कहा कि दिल्ली में वैक्सीनेशन ठीक चल रहा है. कुछ वैक्सीन कल हमें मिली है. वैक्सीनेशन का अभी हमारे पास 4-5 दिन का स्टॉक है. आगे डिमांड की हुई है आगे भी मिलता रहेगा. दिल्ली में कैम्प फैसिलिटी में वैक्सीनेशन की बात दिल्ली सरकार कर रही है, इसके बारे में बताते हुए सत्येंद्र जैन ने कहा कि अभी सिर्फ हेल्थकेयर फैसिलिटी जैसे हॉस्पिटल डिस्पेंसरी में वैक्सीनेशन की अनुमति है हमने कहा था कि हमें अनुमति दी जाए कि कैम्प लगाकर जगह जगह कम्युनिटी में किया जाए. पहले तो उन्होंने बिल्कुल मना कर दिया था लेकिन बाद में मान लेते हैं तो वो अच्छी बात है.

ये भी पढ़ें-
कोरोना संकट: आंकड़ों से समझिये दिल्ली में कैसे पांव पसार रहा है कोरोना का संक्रमण

Corona Vaccine: महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री का आरोप, केंद्र ने हमें कम और यूपी-एमपी- गुजरात को ज्यादा दीं वैक्सीन

Source link

Most Popular

EnglishGujaratiHindiMarathiUrdu