33 C
Mumbai
Tuesday, January 19, 2021
Home Entertainment दीवाली पर जब कागज़ हो गए खत्म तो सलमान ने पिता सलीम...

दीवाली पर जब कागज़ हो गए खत्म तो सलमान ने पिता सलीम खान के नोटों के बंडल में ही लगा दी थी आग, फिर ऐसे पता चली पैसे की अहमियत

सलमान खान कई मौकों पर ये बात कहते रहे हैं कि वो बचपन में कितने शरारती थे. और अपने भाई बहनों के साथ मिलकर बहुत सी शरारतें करते थे. कई मंच से वो अपने बचपन के किस्से शेयर करते रहते हैं. वहीं एक किस्सा आज हम भी आपको सुनाने जा रहे हैं. 

दीवाली पर की थी ऐसी हरकत

दीवाली पर जब कागज़ हो गए खत्म तो सलमान ने पिता सलीम खान के नोटों के बंडल में ही लगा दी थी आग, फिर ऐसे पता चली पैसे की अहमियत

सलमान खान का ये किस्सा दिवाली से जुड़ा है. एक दिवाली जब सलमान अपने भाई बहनों के साथ मिलकर कागज़ जला रहे थे तो थोड़ी देर बार सारे कागज़ खत्म हो गए. तब सलमान जलाने के लिए और भी कागज़ ढूंढने लगे. और ढूंढते-ढूंढते पिता सलीम खान के स्टडी रूम में जा पहुंचे.  वहां सलमान मेज पर कुछ कागज़ देखे और उन्हें जला दिया. 

कागज़ नहीं जलाए थे नोट

लेकिन आपको जानकर हैरानी होगी कि वो कागज़ नहीं थे बल्कि नोट थे. वो भी सलीम खान की मेहनत के. अब आप सोच रहे होंगे कि सलीम खान को जब ये बात पता चली तो उन्होंने क्या किया. तो चलिए ये भी बता देते हैं.  जब ये बात सलीम खान को पता चली तो उन्होने को हो हल्ला नहीं किया और ना ही गुस्सा किया. बल्कि प्यार से चारों बच्चों को बैठाकर उन्हे पैसे का मतलब और अहमियत दोनों बताई. 

सबक सीख गए सलमान

इस वाक्ये ने सलमान पर कापी प्रभाव डाला और जिंदगी ही बदल दी. उन्हें जीवन भर के लिए एक अहम सबक मिला जिसे वो आज भी फॉलो करते हैं. आज भी उनके पैसों का हिसाब सलीम खान रखते हैं और उन्हें फिजूल खर्ची की इजाज़त नहीं हैं. सलमान अपने माता पिता की खूब रिस्पेक्ट करते हैं और उनकी बातों का मानते भी हैं. 

हाल ही में 85 साल के हुए सलीम

दीवाली पर जब कागज़ हो गए खत्म तो सलमान ने पिता सलीम खान के नोटों के बंडल में ही लगा दी थी आग, फिर ऐसे पता चली पैसे की अहमियत

हाल ही में सलीम खान ने अपना जन्मदिन मनाया है. उनका जन्म 24 नवंबर, 1935 को हुआ था. और अब वो 85 साल के हो गए हैं. वे बेहतरीन लेखक हैं और कई फिल्मों की स्क्रिप्ट लिख चुके हैं.

 

Source link

Most Popular

EnglishGujaratiHindiMarathiUrdu