33 C
Mumbai
Sunday, March 7, 2021
Home Business बजट 2021 से पहले पीएम मोदी ने दिए इंफ्रास्ट्रक्चर, मैन्यूफैक्चरिंग और टेक्नोलॉजी...

बजट 2021 से पहले पीएम मोदी ने दिए इंफ्रास्ट्रक्चर, मैन्यूफैक्चरिंग और टेक्नोलॉजी को आगे बढ़ाने के संकेत

केंद्रीय बजट से पहले, प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को बुनियादी ढांचे, विनिर्माण, गतिशीलता, प्रौद्योगिकी और शहरीकरण के विकास के लिए और वैश्विक निवेशकों से “जीवंत लोकतंत्र में एक व्यापार-अनुकूल वातावरण और उपलब्ध अवसरों के साथ लाभ उठाने का आग्रह किया.

पीएम मोदी ने एबीबी, सीमेंस, आईबीएम से ग्लोबल सीईओ के एक हाई-प्रोफाइल पैनल को कहा कि, “ मैं आपको व्यक्तिगत रूप से आमंत्रित कर रहा हूं, आइए और अवसरों का लाभ उठाएं और इसे अपनी भविष्य की संभावनाओं से जोड़ दें.” भारत किसी भी सहायता के लिए तैयार है, जिसकी आपको आवश्यकता हो सकती है, ”

आत्मनिर्भर संकल्प की ओर बढ़ रहा है देश

पीएम मोदी ने कहा कि कोरोना महामारी के दौरान भारत ने सबसे ज्यादा जिंदगियां बचाईं. पीएम ने कहा कि भारत ने दुनियाभर में दवाइयां भेजीं. उन्होंने कहा कि भारत ने कोरोना के खिलाफ लड़ाई को जन आंदोलन में तब्दील कर दिया. यही कारण है कि भारत में कोरोना से ठीक होने वाले मरीजों की संख्या सबसे ज्यादा है. भारत आत्मनिर्भर भारत के संकल्प की ओर बढ़ रहा है. भारत की सफलता पूरे विश्व की सफलता में बदेलगी.

भारत ने कोविड का डटकर मुकाबला किया

पीएम ने कहा, “ दुनिया के कई देशों को लग रहा था कि भारत कोविड 19 से सबसे ज्यादा प्रभावित होगा और कोरोना संक्रमण की सूनामी से बच नहीं पाएगा. कुछ लोगों ने ये भी कहा कि संक्रमण के भारत में 70-80 करोड़ मामले आएंगे, और 20 लाख से ज्यादा मौतें होंगी, लेकिन भारत ने निराश नहीं किया और इससे स्थिति काफी बेहतर रही. पीएम मोदी ने आगे कहा कि कोविड केंद्रित स्वास्थ्य ढांचे को विकसित करने, मानव संसाधन को प्रशिक्षित करने पर ध्यान क्रेद्रित किया गया. इस दौरान जांच और तकनीक का भरपूर इस्तेमाल भी हुआ.

गौरतलब है कि एनडीए सरकार 1 फरवरी को देश के वार्षिक बजट को पेश करेगी और उम्मीदें हैं कि अर्थव्यवस्था को आगे बढ़ाने के लिए और उच्च विकास पथ पर लौटने में मदद करने के लिए बड़े कदमों की घोषणा की जाएगी.

आर्थिक मोर्चे पर बदलेगी स्थिती

पीएम मोदी ने आगे कहा कि, ‘मैं व्यापार जगत को आश्वस्त करना चाहता हूं कि अब आर्थिक मोर्चे पर भी स्थिति तेजी से बदलेगी, मोदी ने कहा कि महामारी के खिलाफ देश की लड़ाई और विकास को पुनर्जीवित करने पर अब उनका ध्यान केंद्रित है.उन्होंने कहा कि कर व्यवस्था से एफडीआई मानदंडों तक, भारत में एक पूर्वानुमानित और अनुकूल वातावरण था. उन्होंने ग्लोबल व्यापार रैंकिंग में निरंतर सुधार की ओर भी इशारा किया.

आत्मनिर्भर अभियान पूरे विश्व के लिए है अच्छा

पीएम ने वैश्विक निवेशकों से प्रॉडक्शन-लिंक्ड इंसेंटिव योजना का लाभ उठाने का भी आग्रह किया और कहा कि देश का ‘आत्मनिर्भर अभियान पूरे विश्व के लिए अच्छा है और वैश्विक आपूर्ति श्रृंखला के लिए प्रतिबद्ध है. उन्होंने कहा, “भारत के पास वैश्विक आपूर्ति श्रृंखला को मजबूत करने की क्षमता और विश्वसनीयता है,” उन्होंने कहा कि देश का एक बड़ा उपभोक्ता आधार था और इसके विस्तार से वैश्विक अर्थव्यवस्था को भी लाभ होग. पीएम ने कहा कि अर्थव्यवस्था की क्षमता और लचीलापन में तेजी लाने और देश को निर्यात केंद्र बनाने के लिए ‘आत्मानिर्भर ’अभियान शुरू किया गया था. मोदी ने कहा कि सरकार ने यह सुनिश्चित करने के लिए क्षेत्रों में सुधारों की एक  सीरीज शुरू की है जिससे अर्थव्यवस्था को उच्च विकास पथ पर रखा गया है.

ये भी पढ़ें

बजट सत्र: वित्त मंत्री आज पेश करेंगी आर्थिक सर्वेक्षण, 18 विपक्षी दलों ने किया राष्ट्रपति के अभिभाषण का बहिष्कार का एलान

प्रत्यक्ष विदेशी निवेश पिछले साल नवंबर में बढ़कर 8.51 अरब डॉलर रहा

Source link

Most Popular

EnglishGujaratiHindiMarathiUrdu