33 C
Mumbai
Wednesday, January 20, 2021
Home Entertainment Drugs Case में मुंबई के करोड़पति पानवाले को एनसीबी ने किया गिरफ्तार

Drugs Case में मुंबई के करोड़पति पानवाले को एनसीबी ने किया गिरफ्तार

Drugs Case: मुंबई के मशहूर मुच्छड़ पानवाला शॉप के मालिकों में से एक रामकुमार तिवारी को एनसीबी ने देर रात गिरफ्तार कर लिया. कल दोनों जयशंकर और रामकुमार की जांच की गई और फिर रामकुमार को गिरफ्तार कर लिया गया मुच्छड़ पानवाले का नाम उस समय एनसीबी की रडार पर आया जब उसका नाम अंतरराष्ट्रीय ड्रग्स सप्लायर्स के संपर्क में रहने वाले एक आरोपी ने लिया. आपको बात दें कि नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) की मुंबई यूनिट ने शुक्रवार रात से लेकर शनिवार की दोपहर तक मुंबई के तीन इलाकों में रेड कर दो महिलाओं और एक ब्रिटिश नागरिक को गिरफ्तार किया था साथ ही लगभग 200 किलोग्राम गांजा भी जप्त किया है.

गिरफ्तार आरोपियों के नाम राहिला फर्नीचरवाला (एक बॉलीवुड अभिनेत्री की पूर्व मैनेजर), साहिस्ता फर्नीचरवाला और करन सजनानी जो की एक ब्रिटिश नागरिक है. एनसीबी की सूत्रों की माने तो सजनानी भारत के गोआ, कर्नाटक, तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश और मेघालया में ड्रग्स की सप्लाई करता है. एनसीबी सजनानी को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर ड्रग्स सप्लाय करने का किंगपिन भी मानती है जिसकी जांच चल रही है.

सजनानी का खुलासा

एनसीबी के एक बड़े अधिकारी ने बताया कि सजनानी ने जांच के दौरान बताया कि वो किस किस को ड्रग्स की सप्लाई करता था जिसमे उसने मुच्छड़ पानवाले का नाम भी ले लिया. जिसके बाद एनसीबी की एक टीम ने केम्स कॉर्नर स्थित उसकी व्हेयर हाउस में छापा मारा जहां से उन्हें कुछ नारकोटिक्स सबस्टेन्स मिले हैं जिसकी जांच एनसीबी कर रही है की वो आखिर क्या है?

इसके बाद ही एनसीबी में रामकुमार तिवारी को समन भेजकर एनसीबी के कार्यालय पूछताछ के लिए बुलाया. रामकुमार सोमवार की सुबह करीब 10 बजे एनसीबी के कार्यालय पहुचे जहां उनका स्टेटमेंट देर रात तक चल ही रहा है. एनसीबी के अधिकारियों ने बताया कि वे यह जानना चाहते हैं की आखिर पानवाला ड्रग्स अगर खरीदता था तो इसका इस्तेमाल कैसे करता था. क्या वह अपने प्रोडक्स में ड्रग्स मिलाकर अपने ग्राहकों को देता था जिससे वो उसके प्रोडक्ट्स के आदि हो जाएं, या फिर वो अपने गिने चुने लोगों को ही बेचता था.

एनसीबी की माने तो इस मामले की जांच बहुत ही निचले स्तर पर है पूछताछ के बाद ही पूरी बात साफ हो पाएगी की आखिर उस ड्रग्स पेडलर (करन सजनानी) ने इसका नाम क्यूं लिया. और जो नारकोटिक पदार्थ उसके दुकान से मिला है वो कहाँ से आई होगी.

क्या मिला था शनिवार की रेड में?

एनसीबी सूत्रों की माने तो उन्होंने 75 किलोग्राम गांजा ओजी कुश नाम से भी जाना जाता है ; 125 किलोग्राम मिक्स गांजा और 1.5 किलोग्राम मेरुआना बड़ (bud) सीज किया था. आपको बात दें कि सजनानी पर आरोप है की यह मेरुआना बड़ अमेरिका से इम्पोर्ट करता था और कुछ तो उत्तर प्रदेश भी मंगवाया था. सजनानी झूठ का सहारा लेकर बड़ी ही चालाकी से यह बड़ कस्टम की आंखों में धूल झोंककर भारत मे लाता था और फिर इसे प्रिरोल्ड गांजा फॉर्म में बड़े बड़े लोगों को महंगे दाम में बेच देता था. आरोप यह भी है कि राहिला इस काम के लिए सजनानी को आर्थिक और दूसरी तरह की मदत करती थी.

मुच्छड़ पानवाला?

इलाहाबाद के हंडिया डिस्ट्रिक्ट में रहनेवाला जयशंकर तिवारी मुच्छड़ पानवाला नाम से मशहूर हैं. सन 1977 वह पहली बार मुंबई आये और अपने पिताजी की पान के बिजनेस को चलाने लगे. आपको बता दें कि जयशंकर तिवारी की पहचान मुच्छड़ पान शॉप से है इन्होंने अपने पान को बेचने के लिए खुद की वेबसाइट भी बनाई है जिसपर पान के ऑर्डर मुंबई से ही नही बल्कि पूरी दुनिया से आते हैं. तिवारी एक करोपति पानवाले हैं जो की खुद की मर्सिडीज़ कार से घूमते है और साउथ मुंबई के हाई प्रोफाइल इलाके में उनका घर है.

मुंबई में अगर अच्छे सेलर्स की बात की जाती है तो उस लिस्ट में जयशंकर तिवारी का नाम भी आता है. अपने मीठी जुबान और पान बनाने के अंदाज से वो अपने ग्राहकों को बांध कर रखते हैं. मुच्छड़ पानवाला की ग्राहकों लिस्ट भी बहुत बड़ी है जिसमे बहुत बड़े बिजनेसमैन, क्रिकेटर्स और बॉलीवुड के सितारों का समावेश है.

Source link

Most Popular

EnglishGujaratiHindiMarathiUrdu