33 C
Mumbai
Sunday, June 20, 2021
Home Business GST कलेक्शन नवंबर में लगातार दूसरे महीने एक लाख करोड़ रुपये के...

GST कलेक्शन नवंबर में लगातार दूसरे महीने एक लाख करोड़ रुपये के पार, विशेषज्ञों ने कहा- यह निरंतर आर्थिक सुधार का संकेत

GST कलेक्शन नवंबर में लगातार दूसरे महीने एक लाख करोड़ रुपये के पार, विशेषज्ञों ने कहा- यह निरंतर आर्थिक सुधार का संकेत

नई दिल्ली: सरकार ने नवंबर के लिए माल और सेवा कर (जीएसटी) के रूप में 1,04,963 करोड़ रुपये एकत्र किए हैं, जो इस साल अक्टूबर में एकत्रित 1,05,155 करोड़ रुपये से थोड़ा कम हैं, लेकिन पिछले साल नवंबर में एकत्र किए गए 1,03,491 करोड़ रुपये से 1.4% अधिक हैं.

सरकार ने कहा, ‘‘जीएसटी राजस्व में सुधार के हालिया रुख के अनुरूप नवंबर में संग्रह का आंकड़ा पिछले साल के समान महीने से 1.4 प्रतिशत अधिक रहा है.’’

विशेषज्ञों के अनुसार, संख्या ने लगातार दूसरे महीने 1 लाख करोड़ रुपये रुपये से अधिक का कलेक्शन, निरंतर आर्थिक सुधार का संकेत है. जीएसटी राजस्व ने वित्त वर्ष 2019-20 के 12 महीनों में से 8 में 1 लाख करोड़ रुपये की कमाई की.

डेलॉइट इंडिया के वरिष्ठ निदेशक एमएस मणि ने कहा, “लगातार तीन महीनों में बेहतर संग्रह का ट्रंड पूरे देश में आर्थिक गतिविधियों में स्थिरता लाने की ओर इशारा करता है, और उम्मीद है कि आने वाले महीनों में यह ट्रेंड जारी रहेगा. हालांकि, महाराष्ट्र, यूपी, दिल्ली, कर्नाटक, तेलंगाना जैसे प्रमुख राज्यों में संग्रह में गिरावट है, जो यह संकेत दे सकता है कि देश में आर्थिक गतिविधियों में पुनरुत्थान एक समान नहीं हुआ है जैसे गुजरात, आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु, पश्चिम बंगाल, ओडिशा ने इसी अवधि के दौरान संग्रह में वृद्धि दर्ज की है.”

इस साल नवंबर में जीएसटी संग्रह में 19,189 करोड़ रुपये का केंद्रीय जीएसटी (सीजीएसटी), 25,540 करोड़ रुपये का राज्य जीएसटी (एसजीएसटी), 512,992 करोड़ रुपये का एकीकृत जीएसटी (आईजीएसटी), और 8,242 करोड़ रुपये का उपकर शामिल है.

शरतुल अमरचंद मंगलदास एंड कंपनी के पार्टनर रजत बोस का मानना है कि शेष वित्तीय वर्ष के लिए जीएसटी संग्रह इस स्तर के आसपास रहेगा. बोस ने कहा “कर संग्रह राजकोषीय फिसलन के जोखिम को कम करता है, विशेष रूप से ऐसे समय में जब अर्थव्यवस्था अपने सबसे खराब चरणों में से एक से गुजर रही है, जो सरकार के लिए राहत की सांस होनी चाहिए,” .

वित्त मंत्रालय के अनुसार, नवंबर महीने के लिए 30 नवंबर, 2020 तक दाखिल किए गए जीएसटीआर -3 बी रिटर्न की कुल संख्या 82 लाख है. महीने के दौरान, माल के आयात से राजस्व 4.9% अधिक था, और घरेलू लेनदेन (सेवाओं के आयात सहित) से राजस्व पिछले साल के इसी महीने के दौरान इन स्रोतों से प्राप्त राजस्व से 0.5% अधिक है.

EY के टैक्स पार्टनर अभिषेक जैन ने कहा, “1 लाख से अधिक का दूसरा सीधा महीना निश्चित रूप से निरंतर आर्थिक सुधार का संकेत है और पिछले साल के इसी महीने से थोड़ा अधिक संग्रह काफी उत्साहजनक है. इससे महामारी के कारण होने वाले जीएसटी संग्रह की कमी को पूरा करने में भी मदद मिलेगी. ”

सरकार ने 22,293 करोड़ रुपये सीजीएसटी को और 16,286 करोड़ रुपये एसजीएसटी को आईजीएसटी से नियमित निपटान के रूप में दिए हैं. केंद्र सरकार और राज्य सरकारों द्वारा नवंबर 2020 में नियमित निपटान के बाद अर्जित कुल राजस्व, CGST के लिए 41,482 करोड़ रुपये और SGST के लिए 41,826 करोड़ रुपये है.

अप्रैल में जीएसटी संग्रह सिर्फ 32,172 करोड़ रुपये रहा था. मई में जीएसटी संग्रह 62,151 करोड़ रुपये, जून में 90,917 करोड़ रुपये, जुलाई में 87,422 करोड़ रुपये, अगस्त में 86,449 करोड़ रुपये, सितंबर में 95,480 करोड़ रुपये और अक्टूबर में 1,05,155 करोड़ रुपये रहा था.

मंत्रालय के आंकड़ों से पता चलता है कि अधिकांश राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों ने जीएसटी संग्रह में वृद्धि दिखाई है,  जबकि लगभग 15 राज्य संग्रह में गिरावट दिखा रहे हैं.
यह भी पढ़ें:

मुंबई में अक्षय कुमार से मिले सीएम योगी आदित्यनाथ, फिल्म सिटी को लेकर हुई बातचीत

Source link

Most Popular

EnglishGujaratiHindiMarathiUrdu