33 C
Mumbai
Wednesday, April 21, 2021
Home Health-Fitness Health Tips: खाना खाने के बाद पेट का भारीपन करता है परेशान,...

Health Tips: खाना खाने के बाद पेट का भारीपन करता है परेशान, तो अपनाएं ये 4 असरदार उपाय

Health Tips खाना खाने के बाद पेट का भारीपन करता है परेशान, तो अपनाएं ये 4 असरदार उपाय

Health Tips: खाना खाने के बाद पेट में भारीपन महसूस होना आजकल ज़्यादातर लोगों के लिए जी का जंजाल बन गया है. क्योंकि भारीपन बेचैनी से लेकर नींद आने तक की परेशानी खड़ी कर देता है. ऐसे में इस प्रॉब्लम से निपटने का एक आसान तरीका तो ये है कि खाना अपनी भूख से थोड़ा कम खाया जाए. लेकिन अगर इसके बावजूद भी आपको भारीपन झेलना पड़ता है तो उसके लिए उन 4 बेहतरीन उपायों को आप ट्राई कर सकते हैं जो हम आपको बताने जा रहे हैं. ये उपाय आपके भारीपन को चुटकियों में गायब कर देंगे.

1. हरी इलायची

खाना खाने के तुरंत बाद इलायची खाना आपके पेट के भारीपन को भगा सकता है और आपके खाने को आसानी से पचाने में आपकी मदद भी कर सकता है. इलायची आपके पेट को फूलने से रोकने में और मुंह से खाने की महक को दूर करने में भी बेजोड़ है. इसलिए खाना खाने के बाद 1 या 2 हरी इलायची ज़रूर चबाएं.

Shani Dev: काली मिर्च से दूर होगी शनि की साढ़ेसाती और शनि की ढैय्या, शनिवार को करें ये उपाय

2. शहद

शहद ऐसी आयुर्वेदिक औषधियों में से एक है, जो खाने में टेस्टी होने के साथ साथ हेल्थ के लिए भी फायदेमंद है. खाना खाने के बाद शहद खाना, पेट में हो रहे भारीपन को दूर करता है. इसके अलावा, ये डाइजेशन को बेहतर बनाने के साथ इम्यूनिटी बढ़ाने का भी काम करता है. इसलिए दिन में तीनों टाइम का खाना खाने के बाद 1 या 2 चम्‍मच शहद याद से खाएं.

3. भीगे हुए अलसी के बीज

खाने के बाद पेट में भारीपन के लिए आप अलसी के बीजों का इस्तेमाल भी कर सकते हैं. ये न सिर्फ पेट के भारीपन को दूर करने में माहिर है बल्कि पेट साफ़ करने में भी कारगर है. इसलिए खाना खाने के बाद रात को और सुबह के समय भीगे हुए अलसी के बीजों को ज़रूर खाएं.

4. सौंफ और मिश्री

खाना खाने के तुरंत बाद पेट के भारीपन से बचने के लिए आप सौंफ और मिश्री भी खा सकते हैं. इतना ही नहीं, प्‍याज या खाने की महक को दूर करने के लिए भी आप मिश्री और सौंफ का इस्तेमाल कर सकते हैं. क्योंकि इनका यूज़ अक्सर माउथ फ्रेशनर के तौर पर किया जाता है.

Chanakya Niti: बुरे वक्त में इन तीन रिश्तों की होती है असली पहचान, जानें आज की चाणक्य नीति

 

Source link

Most Popular

EnglishGujaratiHindiMarathiUrdu