33 C
Mumbai
Sunday, April 18, 2021
Home Education IAS Success Story: भाई की सलाह पर मेडिकल फील्ड छोड़कर यूपीएससी में...

IAS Success Story: भाई की सलाह पर मेडिकल फील्ड छोड़कर यूपीएससी में उतरीं, पहले ही प्रयास में आईएएस अफसर बनीं अर्तिका

Success Story Of IAS Topper Artika Shukla: आज आपको उत्तर प्रदेश के वाराणसी की रहने वाली अर्तिका शुक्ला की कहानी बताएंगे, जिन्होंने यूपीएससी परीक्षा 2015 में ऑल इंडिया रैंक 4 हासिल कर आईएएस अफसर बनने का सपना पूरा किया. खास बात यह रही कि आर्तिका यूपीएससी में आने से पहले एमबीबीएस और एमडी की डिग्री हासिल कर चुकी थीं. उनके दोनों भाई भी यूपीएससी परीक्षा में सफलता प्राप्त कर अच्छे पदों पर हैं और उनके कहने पर ही अर्तिका ने इस फील्ड में आने का फैसला किया. उन्होंने बिना कोचिंग के पहले ही प्रयास में यूपीएससी की परीक्षा पास कर खुद को साबित कर दिखाया. 

बचपन से पढ़ाई में बहुत होशियार थीं 

अर्तिका शुक्ला का जन्म उत्तर प्रदेश के वाराणसी में हुआ था. वह बचपन से पढ़ाई में बहुत होशियार थीं. उनकी शुरुआती शिक्षा बनारस से हुई और इसके बाद वे पढ़ाई के लिए दिल्ली शिफ्ट हो गईं. इंटरमीडिएट में अच्छे नंबर लाने के बाद उन्होंने एमबीबीएस का एंट्रेंस एग्जाम दिया और उनका सिलेक्शन हो गया. एमबीबीएस की डिग्री हासिल करने के बाद उन्होंने एमडी का एग्जाम दिया और उसमें भी उन्हें सफलता मिल गई. मेडिकल क्षेत्र में उन्होंने दो डिग्रियां हासिल कीं. इसके बाद उन्होंने पहले ही प्रयास में यूपीएससी परीक्षा भी पास कर ली.

भाई ने दिया था यूपीएससी का सुझाव 

एमबीबीएस और एमडी की डिग्री हासिल कर चुकीं अर्तिका मेडिकल फील्ड में काफी कामयाब हो रही थीं. उनके दोनों भाई यूपीएससी परीक्षा पास कर चुके थे, ऐसे में भाइयों ने अर्तिका को भी इस फील्ड में आने की सलाह दी. फिर क्या था अर्तिका ने यूपीएससी की तैयारी शुरू कर दी. महज 1 साल के अंदर उन्होंने यूपीएससी परीक्षा की तैयारी पूरी कर परीक्षा दी और उसमें सफलता भी मिल गई. इतना ही नहीं उनकी ऑल इंडिया रैंक 4 आई, जो बहुत बड़ी उपलब्धि है. उनका मानना है कि यूपीएससी की तैयारी अगर सटीक रणनीति के साथ की जाए तो 1 साल में पूरी हो सकती है.

यहां देखें अर्तिका का दिल्ली नॉलेज ट्रैक को दिया गया इंटरव्यू

 

दूसरे कैंडिडेट्स को अर्तिका की सलाह

अर्तिका शुक्ला को यूपीएससी में सफलता बिना कोचिंग के ही मिल गई. उनका मानना है कि अगर आप अच्छी रणनीति के साथ तैयारी करेंगे तो कम समय में सफलता प्राप्त कर सकते हैं. उनके मुताबिक आप 12वीं क्लास तक की एनसीईआरटी की किताबों को अच्छी तरह पढ़कर अपनी तैयारी को बेहतर बना सकते हैं. यूपीएससी की परीक्षा में सफलता प्राप्त करने के लिए आंसर राइटिंग का भी बेहद महत्व है. पेपर से पहले कई बार प्रैक्टिस सेट हल करने से आप समय का मैनेजमेंट भी कर पाएंगे. वे कहती हैं कि असफलताओं से निराश नहीं होना चाहिए और अपनी तैयारी जारी रखनी चाहिए. आखिरकार मेहनत करने वालों को सफलता जरूर मिलती है.

IAS Success Story: पहले प्राइवेट फिर सरकारी नौकरी की, लेकिन यूपीएससी की तैयारी नहीं छोड़ी, आखिरकार पांचवें प्रयास में हरप्रीत बने IAS अफसर

Education Loan Information:
Calculate Education Loan EMI

Source link

Most Popular

EnglishGujaratiHindiMarathiUrdu