33 C
Mumbai
Wednesday, January 20, 2021
Home Sports IND vs AUS: BCCI ने ब्रिस्बेन के सख्त क्वारंटीन नियमों में राहत...

IND vs AUS: BCCI ने ब्रिस्बेन के सख्त क्वारंटीन नियमों में राहत देने के लिए क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया को लिखा पत्र

नई दिल्ली: भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) ने चौथे टेस्ट के लिये ब्रिसबेन में कड़े क्वारंटीन प्रोटोकॉल में राहत देने के लिये गुरूवार को क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (CA) को पत्र लिखा है, जिसमें मेजबान बोर्ड को ध्यान दिलाया गया है कि मेहमान टीम ने दौरे के शुरू में सहमति के अनुसार कड़े क्वारंटीन नियमों का पालन किया था. बता दें कि बीसीसीआई के एक शीर्ष कार्यकारी ने सीए प्रमुख एर्ल एडिंग्स को दौरे के तौर तरीकों पर दोनों बोर्डों द्वारा हस्ताक्षर किये गये समझौते पत्र का हवाला दिया, जिसमें अलग शहरों में दो कड़े पृथकवास प्रोटोकॉल का कोई जिक्र नहीं था.

गौरतलब है कि ब्रिसबेन टेस्ट 15 जनवरी से शुरू होगा और क्वारंटीन नियमों के अनुसार खिलाड़ियों को दिन के खेल के बाद अपने होटल के कमरों तक ही सीमित रहना होगा.

बीसीसीआई के सीनियर अधिकारी ने कहा, ‘‘चर्चा अभी जारी है लेकिन आज बीसीसीआई ने औपचारिक रूप से पत्र भेजकर अपने खिलाड़ियों के लिये ब्रिसबेन में होने वाले मैच के लिये कड़े पृथकवास नियमों में राहत देने की मांग की है.’’

अधिकारी ने आगे कहा, ‘‘हस्ताक्षर किये गये समझौते पत्र में दो कड़े पृथकवास का जिक्र नहीं किया गया था. भारत ने सिडनी में एक सख्त पृथकवास का पालन किया (जिसमें अभ्यास के बाद खिलाड़ी सीधे होटल के कमरे में पहुंचे).’’

बीसीसीआई ने अपने खिलाड़ियों की शिकायतों को संबोधित करते हुए क्या मांग की है और इस समय क्वींसलैंड स्वास्थ्य अधिकारियों का क्या पक्ष है? इस बारे में उन्होंने कहा, ‘‘बीसीसीआई की मांग सरल है. खिलाड़ी होटल बायो-बबल के अंदर एक दूसरे से मिलना जुलना चाहते हैं जैसा कि इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के दौरान करते थे. वे होटल के अंदर एक दूसरे के साथ खाना चाहते हैं और साथ में ही टीम बैठकें करना चाहते हैं. यह कोई बड़ी मांग नहीं है.’’

जहां तक सीए की सूचना का संबंध है तो उसने कहा है कि खिलाड़ी अपने कमरे के बाहर एक दूसरे से मिल सकते हैं लेकिन सिर्फ वे ही जो एक तल (फ्लोर) पर रूके हों. दो अलग अलग तल पर रुकने वाले खिलाड़ी एक दूसरे के संपर्क में नहीं आ सकते जो बात कईयों को हास्यास्पद लगी.

इस बारे में उन्होंने कहा, ‘‘बीसीसीआई ने सीए को बताया है कि पृथकवास नियमों में छूट लिखित में दी जानी चाहिए. संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) से सिडनी पहुंचने के बाद भारत के कड़े पृथकवास में प्रत्येक तल पर पुलिस अधिकारी होते थे ताकि सुनिश्चित हो कि जैव सुरक्षा प्रोटोकॉल का कोई उल्लघंन नहीं हो। ’’

उन्होंने आगे कहा, ‘‘उम्मीद करते हैं कि अगर टीम ब्रिसबेन पहुंचती है तो इस तरह का कुछ नहीं होगा. हम यही चाहते हैं कि आईपीएल की तरह का बायो-बबल हो.’’

भारतीय खिलाड़ियों को सिडनी में चल रहे तीसरे टेस्ट के लिये होटल पृथकवास में रखा गया है और कप्तान अजिंक्य रहाणे ने यह कहकर अपनी नाराजगी स्पष्ट की थी कि उस समय ‘होटल में रहना चुनौतीपूर्ण’ था जबकि बाहर से शहर ‘सामान्य’ दिख रहा हो. अगर क्वींसलैंड अधिकारियों का रुख नरम नहीं हुआ तो चौथा टेस्ट समान तारीख में सिडनी में खेला जा सकता है लेकिन इसकी संभावना कम है क्योंकि बातचीत का दौर जारी है.

यह भी पढ़ें- 

IND vs AUS: मोहम्मद सिराज ने बताया- क्यों अश्विन पर हावी हो गए स्टीव स्मिथ

न्यूजीलैंड के खिलाफ सीरीज हारने के बाद पाकिस्तान के कोच मिस्बाह उल हक बोले- हम आलोचना के हकदार हैं

Source link

Most Popular

EnglishGujaratiHindiMarathiUrdu